समर्थक

Monday, 8 February 2010

“समीर लाल का स्वर सुन लिया!” (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री “मयंक”)

“लाइव-संस्मरण”

“…… ….. की आवाज पतली है?”

दिनांकः 07-02-2010
समयः 9-47 PM
अचानक मेरा चैट बॉक्स खुला-

samportblog


Udan: शास्त्री जी प्रणाम


कैसे हैं.


मुझे: नमस्कार जी!


मैं ठीक हूँ आप कैसे हैं?


Udan: बस, आपका शुभाशीष है


आपके माईक है क्या? एक टेस्टिंग करना था.


मुझे: भारत कब आ रहे हैं?


Udan: जी, इस बरस में आना तो पक्का है.


अभी माह नहीं तय हो पाया है


९:४९ PM


मुझे: जी है लगा लिया है!


Udan: अच्छा


यह वार्तालाप हुआ लिखकर!

RC_Shastri_160209_By_RK_Ravi


अब माइक लगा कर साक्षात् रूप से बातें शुरू हो गयीं


कनाडा के समीर लाल जी (उड़नतश्तरी) से-


मैंने समीर लाल जी से कहा-


“पंकज मिश्र जी ने पोस्ट लिखी थी कि


आपकी आवाज वहुत पतली है।”


समीर जी ने कहा-


“क्या आपको ऐसा लगता है?”


मैंने कहा-


“समीर जी मुझे तो आपकी आवाज पतली


कहीं से भी नही लगी है!


मगर आपका स्वर मधुर अवश्य है।”


समीर लाल जी ने कहा-


“शास्त्री जी! आपको मैंने डिस्टर्ब तो नही किया!


आदरणीया भाभी जी को मेरा प्रणाम कहें!”


मैंने कहा-


“अरे समीर भ्राता जी!


हमारे खटीमा में एक दान सिंह रावत जी हैं,


उनको उत्तर प्रदेश सरकार ने भी राज्य-मन्त्री बनाया था।


अब वे उत्तराखण्ड में भी सहकारी बैंकों के भी चेयरमैन है।


उनकी शक्ल और आवाज आपसे हूबहू मिलती है।”


समीर जी ने कहा-


“शास्त्री जी! आपके यहाँ आऊँगा तो मैं उनसे भी मिलना चाहूँगा।”


इसके बाद मैंने उनको सुप्रभात कहा


और


उन्होंने मुझे शुभरात्रि कहा!

13 comments:

  1. Wartalaap taqreeban sunayi diya!

    ReplyDelete
  2. वाह शास्त्री जी , समीर लाल जी से बात करके तो मज़ा आ जाता है । सच कहा आपने उनके स्वर में बहुत माधुर्य है।

    ReplyDelete
  3. अच्छा लगता है अपने लोगों से बात कर के बधाई आपको

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छा लगा .. पढकर, सुन कर।

    ReplyDelete
  5. आपसे बात करना सुखद रहा, शास्त्री जी.

    ReplyDelete
  6. पढ़कर बहुत अच्छा लगा! बढ़िया मुलाकात रही!

    ReplyDelete
  7. बात रिकार्ड कर लेते तो हम भी सुन लेते उनकी और आपकी मधुर वाणी...
    नीरज

    ReplyDelete
  8. अच्छा! तो मैं भी सुनने का प्रयास करता हूँ.

    ReplyDelete

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।