समर्थक

Thursday, 30 July 2009

‘‘परिभाषा’’ (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री ‘मयंक’)



आंग्ल-भाषा का पहला शब्द-कोष बनाने वाले डॉ. जॉनसन ने शब्दों को अकारादि क्रम से जोड़ा। लेकिन शब्दों के अर्थ लिखने की बजाय उनकी परिभाषाएँ लिख दीं।
ऐसा करने की वजह शायद यह रही होगी कि शब्द का अर्थ ठीक से समझ में आ जाये।
उदाहरण के तौर पर-
‘सिगरेट’ का अर्थ उन्होंने लिखा-‘‘सिगरेट कागज में लिपटा हुआ तम्बाकू है। जिसके एक तरफ धुँआ होता है और दूसरी तरफ एक बेवकूफ।’’
कैसी रही यह परिभाषा?

8 comments:

  1. "सिगरेट कागज में लिपटा हुआ तम्बाकू है। जिसके एक तरफ धुँआ होता है और दूसरी तरफ एक बेवकूफ।’’



    बढिया परिभाषा सिगरेट का !

    शास्त्री जी परिभाषा अच्छI है !

    ReplyDelete
  2. सही परिभाषा -- बिलकुल सही

    ReplyDelete
  3. bahut khoob.........sahi paribhasha to yahi hai.

    ReplyDelete
  4. ati uttam baat ahi hai shastri ji aap ne....
    bahut badhiya..

    ReplyDelete
  5. UMDA BAAT !

    BAHUT PURAANI HAI ........
    LEKIN ACHHI HAI

    ReplyDelete
  6. बहुत ही सटिक परिभाषा दी है आपने

    ReplyDelete
  7. बहुत ही सुन्दर परिभाषा है सर सहमत हूँ

    ReplyDelete

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।